HomeHealth Tips in Hindi

Indian Baby Diet Chart in Hindi शिशु का सर्वोत्तम आहार

10 Month Baby Diet Chart in Hindi : नवजात शिशु के पहले साल की डाइट उसके शारीरिक विकास में सबसे अधिक भूमिका निभाती है| 10 महीने में बच्चा ठोस खाना शुरू कर देता है| जरूरत होती है, माता पिता को बच्चे की डाइट पर ध्यान देने की| यह समय बच्चे के विकास का शुरूआती चरण है| इस समय बच्चे को सबसे अधिक पोषक तत्वों और ऊर्जा की जरूरत होती है| इस समय बच्चा जैसा आहार लेगा, उसका स्वास्थय और शरीर का वजन उसी पर निर्भर करेगा| जाने – गर्भावस्था में क्या खाये क्या नहीं

Baby Diet in Hindi

पहले साल में बच्चे के दाँत निकल जाते है, जिसके कारण उन्हें खाना खाने में अधिक कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ता| इस समय बच्चे की खाने की चाहत अधिक होती है| इस समय बच्चा अपने आप माता पिता की थाली में हाथ डालकर खाना खाने की कोशिश करता है| अगर आपका बच्चा भी 10 से 12 महीना का हो चूका है, तो आपको उसकी डाइट प्लान तैयार कर लेनी चाहिए| उसकी डाइट प्लान बनाते समय ध्यान रहे, कि उसमे खूब सारे पोषक तत्व शामिल हो, क्योंकि इस समय की डाइट बच्चे के विकास में सबसे ज्यादा सहयोगी होती है|

10 से 12 महीने के दौरान बच्चे का सबसे ज्यादा विकास होता है| इन महीनो में वह खुद एक्टिव हो जाता है और खुद चलने की कोशिश करने लगता है| इस समय बच्चा सबसे अधिक सिखने की कोशिश करता है| ऐसे समय में उसे पोषक तत्वों से युक्त डाइट प्लान की जरूरत होती है| इस समय बच्चे को ऐसे आहार देने चाहिए, जिनसे एनर्जी मिलती है| अधिकतर महिलाओं को 8 से 12 महीने के बच्चे को क्या खिलाना चाहिए, इसकी जानकारी नहीं होती, इसीलिए वे नेट पर 10 / 12 Month Baby Diet Chart in Hindi ये सर्च करती है|

हमने अपनी खोज के आधार पर एक डाइट चार्ट तैयार किया है, जिसमे 10 से 12 महीने के बच्चे का भोजन शामिल है| बच्चे का शरीर बहुत नाजुक होता है| बच्चे के जल्दी विकास के चक्कर में बच्चे को एकदम से बहुत अधिक ठोस आहार ना खिलाये| धीरे धीरे उसकी डाइट में ठोस आहार दे| आहार की मात्रा को थोड़ा थोड़ा करके बढ़ा सकते है| जब बच्चा खाने की ज़िद करे, शुरू में केवल तभी ठोस आहार दे| तो चलिए जाने One Year Baby Food in Hindi

10 से 12 महीने के बच्चे का आहार (10 & 12 Month Baby Food in Hindi)

1. सब्जयों के शोरबे में अनेक प्रकार के पोषक तत्व और प्रोटीन की मात्रा पायी जाती है, जो शिशु के विकास के लिए उपयोगी है| 10 से 12 महीने के बच्चे को ताज़ी सब्जयों का शोरबा बना के खिलाना चाहिए|

2. अंडे में प्रोटीन की मात्रा अधिक पायी जाती है| 10 से 12 साल के बच्चे को उबले अंडे खिला सकते है| ध्यान रहे बच्चे को एक बार में ही पूरा अंडा ना खिलाये|

3. बच्चे के विकास के लिए पोषक तत्वों और भरपूर मात्रा में प्रोटीन की जरूरत होती है| गाजर और शकरकंद में बहुत सारा प्रोटीन होता है| बच्चे को गाजर और शकरकंद उबालकर मैश करके थोड़ा थोड़ा खिलाये|

4. पनीर जैसा दिखने वाला टोफू बढ़ते बच्चे के लिए लाभदायक होता है| टोफू में कैल्शियम और प्रोटीन भरपूर मात्रा पाया जाता है, जो बच्चे के विकास में सहायक है| हफ्ते में कम से कम एक बार बच्चे को टोफू जरूर खिलाये|

5. ओट्स को कुछ लोग जई के नाम से भी जानते है| इसमें फाइबर और अनेक प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते है, जो मानव विकास के लिए बहुत उपयोगी होते है| ओट्स बाजार में आसानी से मिल जाता है| इसका दलिया भी मिलता है| ओट्स नवजात शिशु के लिए बढ़िया आहार है| यह आसानी से पच जाता है, इसीलिए इसे खाने से बच्चे का पेट भी ठीक रहता है|

6. जैली छोटे बच्चे बहुत चाव से कहते है और यह बच्चे के लिए स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक भी होती है| आप अपने नवजात बच्चे को घर पर फ्रूट जैली बनाकर खिलाये| फ्रूट जैली मार्किट में आसानी से मिल जाती है., लेकिन छोटे बच्चे को मार्किट की चीजे अधिक ना खिलाये|

7. बच्चे की डाइट में सब्जियों के साथ साथ फलो को भी शामिल करे| फलो में आप केला खिलाये| केला आसानी से पच जाता है और यह बच्चो का फेवरेट फल है| केले में दूध डालकर मिल्क शेक बनाकर भी खिला सकते है|

8. बच्चे को चावल से निकला मांड पिलाये| मांड में नमक या हल्की सी चीनी मिला ले| पहले के लोग छोटे बच्चो को रोजाना मांड पिलाते थे, क्योंकि इसमें अनेक प्रकार के पौष्टिक तत्व पाए जाते है|

9. नॉनवेज चीजों में पोषक तत्व अधिक पाए जाते है| अगर आप चाहे तो अपने बच्चे काँटे वाली मछली उबालकर मैश करके खिला सकती है|

10. दही में अनेक प्रकार के पोषक तत्व होते है, और यह खाने में भी बहुत अच्छी लगती है| अगर आपका बच्चा 10 से 12 महीने का हो गया है, तो अपने बच्चे को आप दही या दही में हल्की चीनी डालकर खिलाये| ध्यान रहे दही ठंडी होती है, इसीलिए इसे केवल दोपहर के समय ही खिलाये| सर्दियों के मौसम में बच्चे को दही ना खिलाये|

11. कुकीज बहुत ही पौष्टिक और स्वादिष्ट डिस होती है| बच्चो को कुकीज खाना बहुत पसंद होता है| नवजात बच्चे को थोड़ी थोड़ी मात्रा में कुकीज खिलाये| ध्यान रहे इस समय बच्चा छोटा है, इसीलिए केवल दूध से बनी कुकीज ही बच्चे को खिलाये|

12. अगर आपका बच्चा 8 महीने से ऊपर का हो गया है, तो अपने बच्चे को दूध में ब्रेड और बिस्किट भिगोकर खिलाये| ब्रेड और बिस्किट आसानी से पच जाते है|

13. अगर आपका बच्चा 10 से 12 महीने का हो गया है, तो उसे थोड़ी थोड़ी मात्रा में ठोस आहार खिलाये| दूध में चावल मिलाकर अच्छे से मैश करके बच्चे को खिलाये| चावल की पतली खीर बनाकर भी बच्चे को खिला सकती है| खीर खाना बच्चो को पसंद होता है| खीर में दूध भी होता है, जो बच्चे के विकास में जरुरी है|

जाने – कैल्शियम की कमी कैसे दूर करे

जाने – विटामिन युक्त फल और सब्जियां

10 Month Baby Diet in Hindi : इस पोस्ट में आपने दस से एक साल से बच्चे को क्या खाना चाहिए इसके बारे में जाना| आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट करके जरूर बताये| पोस्ट के बारे में अपने विचार पोस्ट के नीचे बने कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमारे साथ शेयर करे|

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − ten =

error: Content is protected !!