HomeHealth Tips in Hindi

तेज पत्ता – Bay Leaf in Hindi with Meaning & Health Benefits

Bay Leaf in Hindi & bay Leaf Meaning in Hindi : इस पोस्ट में आप बे लीफ का हिंदी में अर्थ और बे लीफ के फायदों के बारे में जानेगे| बे लीफ का इस्तेमाल हर घर में भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है, लेकिन इसके अन्य फायदे भी है, जिनसे हम अनजान है| हम आपको इस पोस्ट में बे लीफ के उन अनजान फायदों के बारे में बताने वाले है, जिन्हे जानकर आप उनका लाभ उठा पायेगे| (ये भी पढ़े – ब्रोकोली के फायदे)

Bay Leaf in Hindi

Bay Leaf Meaning in Hindi

बे लीफ को हिंदी में तेज पत्ता कहते है| तेज पत्ता को सुखाकर मशाले के रूप में रसोई में इस्तेमाल किया जाता है| बे लीफ एक बहुत विशाल पेड़ का पत्ता होता है| जब यह बहुत बड़ा हो जाता है, तब इसे पेड़ से तोड़कर सूखा लेते है| अब इस सूखे पत्ते को मार्किट में बेचा जाता है|

Bay Leaf in Hindi

बे लीफ की फसल सबसे पहले एशिया माइनर में हुयी थी| इसके बाद यह उपयुक्त मौसम वाले छेत्रो में धीरे धीरे फैलने लगा| तेज पत्ते की फसल ठंडी जलवायु में नहीं होती, इसीलिए इसकी फसल उत्तरी क्षेत्रों में नहीं होती, क्योंकि इन क्षेत्रों की जलवायु तेज पत्ते की फसल के लिए उपयोगी नहीं है| तेज पत्ते के इस्तेमाल से भोजन को स्वादिष्ट और सुगंधित बनाया जाता है|

बिना सुखाये तेज पत्ते को खाने से इसका स्वाद बहुत कड़वा और तिक्त लगता है| सुखाकर खाने से इसका स्वाद अजवायन के पत्तो जैसा लगता है और इसकी खुशबु जड़ी बूटीयो के जैसी लगती है|

तेज पत्ते का इस्तेमाल केवल भोजन में ही नहीं किया जाता, इसके अन्य फायदे भी है| तेज पत्ते के इस्तेमाल से परफ्यूम का निर्माण होता है, इसके अलावा तेज पत्ते में यूजेनोल तेल भी पाया जाता है| तेज पत्ते में मौजूद खनिज तत्व अनेक प्रकार के रोगो से लड़ने में सहायक होते है| इसके इस्तेमाल से अनेक प्रकार के रोगो को ठीक किया जा सकता है| हम आपको तेज पत्ते के कुछ फायदों के बारे में बताने वाले है, जिन्हे जानकर आप हैरान रह जायेगे, और तेज पत्ते के महत्त्व को समझेंगे|

तेज पत्ते के फायदे (Benefits of Bay Leaf in Hindi)

1. कितनी भी सफाई रखने की कोशिश करे, लेकिन बचपन में बच्चो के बालो में जुएं हो ही जाती है| इन जुओं को बालो से निकालने के लिए तेज पत्ते का ये आसान उपाय जरूर अपनाये| दो गिलास पानी में 8 से 10 पत्तिया तेज पत्ते की डालकर पानी को उबालने रख दे| पानी को जब तक उबालते रहे, जब तक पानी आधा गिलास ना रह जाये, अब बालो को धुलने से एक घंटा पहले इस पानी से बालो की जड़ो की अच्छी तरह मालिश करे| इस घरेलू नुस्खों को दो चार बार लगातार करते रहने से, जुएं आसानी से निकल जायेगी|

ये भी पढ़े – कलोंजी के फायदे
ये भी पढ़े – खसखस के फायदे

2. रोजाना भोजन में तेज पत्ता डालकर खाने से हार्ट मजबूत होता है और हार्ट से जुडी बीमारियां नहीं होती| इस प्रकार जिन लोगो का हार्ट कमजोर है और जो लोग हार्ट से जुडी बीमारयों से बचना चाहते है, उन्हें तेज पत्ते का इस्तेमाल भोजन में जरूर करना चाहिए|

3. रेशमी और ऊनी कपड़ो में कीड़ा आसानी से लग जाता है, अगर आप अपने कपड़ो को कीड़ो से बचाना चाहते है, तो जी बैग या बक्से में कपडे रखे रहते है, उसमे तेज पत्ते की कुछ पत्तिया रख दे|

4. अगर आपको खाँसी हो रही है, तो शहद में तेज पत्ते का पाउडर मिलाकर चाटे| दो चार बार ऐसा करने से खाँसी ठीक हो जायेगी| यह घरेलू नुस्खा आप खाँसी ठीक करने उपयोग कर सकते है|

5. अगर आपको या आपके परिवार में किसी को भी हकलाने की समस्या है, तो रोज तेज पत्ते को जीभ के निचे रखकर चूसे| ऐसा नियमित रूप से करने से एक महीने में ही हकलाना बंद हो जायेगा|

6. आजकल अनाज में कीड़े लगना एक सामान्य समस्या हो गयी है| पहले सालो तक अनाज में कीड़े नहीं लगते थे, लेकिन अब एक महीने में ही अनाज में कीड़ा लग जाता है| अनाज को कीड़े से बचाने के लिए अनाज के बिच में तेज पत्ते की पत्तिया रख दे| इससे अनाज में कीड़ा नहीं लगेगा|

7. अगर आपके दांत कमजोर है, उनमे ठंडा गर्म लगता है और साथ ही आपके दांत काले भी है, तो आप कुछ दिनी तक रोजाना सुबह शाम अपने दांतो पर तेज पत्ते के पाउडर से मालिश करे| तेज पत्ते की मालिश से दांत मजबूत हो जायेगे और उनका कालापन दूर हो जायेगा| इसके साथ ही तेज पत्ते के पाउडर की मालिश से दांतो में ठंडा गर्म लगना भी बंद हो जाएगा|

8. दमा रोगियों को तेज पत्ते का ये देशी उपाय जरूर अपनाना चाहिए| तेज पत्ते में बराबर मात्रा में मिश्री, पीपल और अदरक मिलाकर पीसकर पाउडर तैयार कर ले| अब इस पाउडर की एक चम्मच मात्रा को रोजाना कम से कम 40 दिनों तक खाये| दमा रोगियों को इससे लाभ होगा|

9. आटे को चीटियों और नमी से बचाने के लिए आटे के डब्बे में तेज पत्ता डाल दे| इससे आटे में चीटियां नहीं आयेगी और आटा नमी से बचा रहेगा|

10. तेज पत्ते की तासीर गर्म होती है| इसकी चाय बनाकर पिने से जलन, सर दर्द, सर्दी जुखाम जैसी छोटी छोटी बीमारियां आसानी से ठीक हो जाती है|

ये भी पढ़े – मेथी के फायदे
ये भी पढ़े – प्याज के बीज के फायदे

11. अगर आपका पेट फूलता है या आपको उबकाई और अतिसार की समस्या है, तो तेज पत्ते का काढ़ा बनाकर पियें| तेज पत्ते का काढ़ा पीने से ये परेशानियां ठीक हो जाती है|

इस पोस्ट में आपने Bay Leaf in Hindi और Bay Leaf in Benefits के बारे में जाना| बे लीफ के अनेक फायदे है, जिनका आप लाभ उठा सकते है| इस पोस्ट के बारे में अगर आपके मन में कोई सवाल है, तो आप अपना सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है|

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − 8 =

error: Content is protected !!