HomeHealth Tips

Saffron Benefits and Saffron Meaning in Hindi Language

What is Saffron Meaning in Hindi

आज हम आपको “Saffron in Hindi” इस बारे में बताने जा रहे हैं| भारत में 25 % लोग ही Saffron इस नाम को जानते हैं, लेकिन अगर हम Saffron की हिंदी अर्थात Saffron Meaning in Hindi बता दे, तो शायद ही भारत में ऐसा कोई व्यक्ति हो जो Saffron के बारे में ना जानता हो| Saffron को हिंदी में केसर कहते हैं| सौन्दर्य प्रसाधन हो या घर की रसोई केसर का इस्तेमाल हर जगह होता हैं|

Saffron in Hindi

आयुर्वेद की बात करे तो, जो लोग थोड़ी थोड़ी मात्रा में Saffron का सेवन करते हैं, वो कभी बीमार नहीं होते| केसर सुनहरे लाल रंग का होता हैं| केसर की खुशबु बहुत तीव्र और मन को भाने वाली होती हैं, इसी कारण केसर का उपयोग अनेक प्रकार के पकवानो को बनाने में भी किया जाता हैं| केसर भारत में केवल कश्मीर में पैदा होता हैं| गर्म तासीर वाला केसर अगर कम मात्रा में औषधि के रूप में लिया जाये, तो यह शरीर को रोग मुक्त रखता हैं| जो लोग गोरा होना चाहते हैं, वो भी केसर का इस्तेमाल करे| केसर का लेप चेहरे पर लगाने पर चेहरा खिल उठता हैं|

केसर के अनेक गुण हैं, लेकिन फिर भी लोग इसका इस्तेमाल कम करते हैं| इसका कारण हैं, केसर का महँगा होता| जी हाँ, केसर के दाम बहुत अधिक होते हैं| मार्किट में केसर आसानी से मिल जाता हैं, लेकिन मार्किट से केसर खरीदते समय थोड़ा सतर्क रहे, क्योंकि आजकल मार्किट में नकली केसर खुद बिक रहा हैं| हम आज Saffron in Hindi की अपनी पोस्ट में आपको केसर के फायदे और नकली और असली केसर की पहचान कैसे करे इस बारे में बतायेगे| तो चलिए जाने केसर के बारे में|

असली केसर की पहचान (Identification of real saffron)

1. असली केसर की पहचान करना बहुत सरल हैं| असली केसर पानी में पूरी तरह से खुल जाता हैं, जबकि नकली केसर पानी में पूरी तरफ नहीं घुलता|

2. केसर को हल्का से जीभ पर रखे अगर उसका स्वाद कड़वा लगे, तो समझे केसर शुद्ध हैं, क्योंकि नकली केसर मीठा होता हैं|

3. असली केसर पानी में डालने पर वह पीला रंग छोड़ने लगता हैं, जबकि नकली केसर से पानी लाल हो जाता हैं|

केसर के फायदे (Benefits of Saffron)

1. सिर दर्द जो कि एक सामान्य समस्या हैं, इससे छुटकारा पाने के लिए भी केसर का उपयोग किया जाता हैं| सिर दर्द होने पर केसर और चन्दन का लेप बनाकर सिर पर लगाएं| इस लेप को लगाने से सिर दर्द में बहुत आराम मिलेगा|

2. अगर आप तनाव में रहते हैं, और आपको नींद भी नहीं आती, तो रात को सोने से पहले एक गिलास केसर युक्त दूध पियें| केसर वाला दूध पीने से नींद अच्छी आती हैं, और तनाव भी कम होता हैं|

3. दिमाग, सिर और आँखों को शीतलता प्रदान करने के लिए केसर में चन्दन घिसकर माथे पर इसका लेप करे| गर्मियों के मौसम में ये लेप करने से गर्मी से बहुत राहत मिलती हैं| इस लेप को लगाने से व्यक्ति का दिमाग भी तेज होता हैं|

4. अगर आपको कही पे चोट लग गयी हैं, या फिर कही से आपकी त्वचा जल गयी है, तो तुरंत उस स्थान पर केसर का लेप लगाये| इससे काफी आराम मिलेगा, और नयी त्वचा भी जल्दी आएगी|

5. सर्दियों में छोटे बच्चो को अक्सर सर्दी जकड लेती हैं| अगर सर्दी दूर नहीं हो रही तो, केसर में लौंग और जायफल मिलाकर लेप तैयार करे| अब इस लेप को बच्चे की छाती, पीठ और नाक पर लगाये| इस लेप को लगाने से एक से दो दिन में ही बच्चे की सर्दी दूर हो जायेगी|

6. बुखार को ठीक करने के लिए ‘क्रोसिन’ की जरुरत होती हैं| इसके साथ ही यह तत्व स्मरण शक्ति को भी बढ़ाता हैं| ‘क्रोसिन’ एक उपयोगी तत्व हैं, जो केसर में भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं, इसीलिए बुखार होने पर केसर का सेवन लाभप्रद हैं|

7. केसर वाला दूध पीने से पाचन किर्या दुरुस्त होती हैं| जिससे पेट से जुडी गैस, कब्ज और एसिडिटी जैसी समस्या दूर हो जाती हैं|

8. जिन लोगो के जोड़ो में दर्द होता हैं, उनके लिए केसर का दूध फायदेमंद हैं| जोड़ो में दर्द होने पर सुबह शाम एक गिलास केसर युक्त दूध पियें| केसर वाला दूध पीने दे दर्द खत्म हो जायेगा और मांसपेशियों में लचीलापन भी आयेगा| अर्थराइटिस के रोगी भी केसर के सेवन से लाभ उठा सकते हैं|

9. केसर वाला दूध पीना आँखों के लिए फायदेमंद हैं| इसके सेवन से मोतियाबिंद ठीक हो जाता हैं| एक रिसर्च के अनुसार रोजाना केसर वाला दूध पीने वाले लोगो की आँखे कभी कमजोर नहीं होती हैं|

10. सर्दी झुकाम की समस्या होने पर दिन में दो बार सुबह शाम दूध में केसर मिलाकर पियें| इससे सर्दी झुकाम एक दो दिन में पूरी तरह खत्म हो जायेगा|

11. केसर रक्त का शुद्धिकरण भी करता हैं| केसर के सेवन से लिवर और ब्‍लैडर से जुड़े सभी रोग ठीक हो जाते हैं|

12. महिलाओ को अक्सर मासिक धर्म के दौरान दर्द रहता है| केसर वाला दूध पीने से मासिक धर्म के दौरान दर्द नहीं होता, और अगर आपके गर्भाशय में सूजन हैं, तो ये सूजन भी ठीक हो जाती हैं|

13. जो लोग शारीरिक रूप से कमजोर हैं, वो केसर युक्त दूध पियें| इससे शारीरिक शक्ति तेजी से बढ़ती हैं|

14. मसूड़ों में जख्म और सूजन होने पर भी केसर के सेवन से लाभ होता हैं|

केसर के नुकसान (Side Effects of Saffron)

केसर बहुत लाभकारी हैं, लेकिन अगर इसका सेवन आप अधिक मात्रा में करते हैं, तो यह हानिकारक होता हैं| आपको ये बात जान लेनी जरुरी हैं, कि केसर की बहुत अधिक मात्रा लेने से व्यक्ति की मौत भी हो सकती हैं| गर्भावस्था के दौरान औरत के लिए केसर युक्त दूध लाभकारी होता हैं, लेकिन केसर का अधिक सेवन करने से औरत का गर्भपात भी हो सकता हैं| केसर का सेवन कितनी मात्रा में करना सही हैं, ये जानने के लिए एक बार डॉक्टर से सम्पर्क जरूर करे|

दोस्तों Saffron in Hindi की हमारी ये पोस्ट आपको कैसी लगी, हमें कमेंट करके जरूर बताये| कमेंट करने के लिए कमेंट बॉक्स में जाये और अपने नाम के साथ हमे अपना कमेंट करे|

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × one =

error: Content is protected !!