HomeHealth Tips in Hindi

(हरा धनिया) Coriander Meaning in Hindi & Health Benefits

Coriander in Hindi Meaning & its Health Benefits : क्या आप Coriander का हिंदी मीनिंग और इससे होने वाले फायदों के बारे में जानते है| अगर जानते है, तो यह अच्छी बात है और अगर आप इसके बारे में नहीं जानते और जानना चाहते है, तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत हेल्पफुल है| इस पोस्ट में आपको Coriander के हिंदी मीनिंग और Coriander क्या है, इसके बारे में जानकारी मिलेगी| (ये भी पढ़े – सौंफ़ खाने के फायदे)

Coriander in Hindi

Define Coriander Meaning in Hindi

Coriander को हिंदी में धनिया कहते है| मारवाडी भाषा में धनिया को धोणा कहते है| यह एक मशाला है, जो हर घर में उपयोग किया जाता है| धनिया की ताज़ी पत्तियों और धनिया के बीजो दोनों का उपयोग भोजन को स्वादिष्ट बनाने में किया जाता है|

Coriander in Hindi – धनिया

मशाले के रूप में इस्तेमाल होने वाला धनिया खाने के स्वाद को बढ़ा देता है| दाल सब्जी में हरा धनिया डालने से खाने की खुशबु ही बदल जताई है| हरे धनिया का इस्तेमाल भोजन को सजाने के लिए भी किया जाता है| हरे धनिये की चटनी खाने में बहुत स्वादिष्ट होती है| गांव हो या शहर धनिये की चटनी सभी खाते है| भोजन का स्वाद बढ़ाने के साथ साथ धनिये में कई औषधीय गुण पाए जाते है| इन औषधीय गुण के कारण धनिया अनेक बीमारियों में लाभकारी है| धनिये खाने के अनेक फायदे है, जिनसे हम आज भी अनजान है| चलिए जाने धनिये के फायदे के बारे में|

Benefits of Eating Coriander in Hindi (Dhaniya Khane Ke Labh)

1. धनिया का इस्तेमाल त्वचा के दाग धब्बे हटाने और सुंदरता बढ़ाने के लिए भी किया जाता है| एक बोतल पानी में तीन चम्मच साबुत धनिया चार से पांच घंटे के लिए भिगोकर रखे| अब इस पानी को छलनी से छान ले और इस पानी से चेहरा धुले| ध्यान रहे चेहरा धुलते समय आंखे बंद रखे| इस नुस्खे का उपयोग कम से कम दो महीने तक करे, इससे आपके चेहरे के दाग धब्बे दूर हो जायेगे और चेहरे पर निखार आयेगा|

2. गर्मियों में घमोरियां होना एक आम बात है| धनिये के छोटे से घरेलू उपाय है, आप घमोरियां को दूर कर सकते है| रात को सोने से पहले आधी बाल्टी पानी में 5 से 6 चम्मच साबुत धनिया डाले सुबह उठकर इस पानी से नहाये| धनिये के पानी से नहाने से घमोरियां दूर हो जायेगी|

3. मासिक धर्म से जुडी परेशानियां हर किसी के साथ होती है| अगर आपको मासिक धर्म में अधिक ब्लड आ रहा है, तो शक्कर और 6 ग्राम धनिये के बीज को आधा लीटर पानी में भिगोकर जब तक उबाले जब तक पानी आधा ना रह जाये| अब इस पानी को ठंडा करके दिन में तीन से चार बार थोड़ी थोड़ी मात्रा में पियें| इससे मासिक धर्म में अधिक खून आने वाली समस्या दूर हो जायेगी| धनिया का यह पानी पीने से मासिक धर्म से जुडी अन्य समस्याएं भी दूर हो जाती है|

ये भी पढ़े – रोजमेरी के फायदे
ये भी पढ़े – केसर के फायदे

4. अगर आप डायबिटीज के मरीज हो, तो आपके लिए धनिये का सेवन लाभकारी है| धनिये को डायबिटीज का नाश करने वाला माना जाता है| अगर आप डायबिटीज को कण्ट्रोल करना चाहते है, तो रोजाना किसी ना किसी रूप में धनिये का सेवन करे| धनिया खाने से ब्लड में इंसुलिन की मात्रा कण्ट्रोल में रहती है|

5. साँस से जुडी बीमारियों जैसे दमा और ब्रोंकाइटिस में धनिया पत्ती का रस पिने से इन्हे कण्ट्रोल किया जा सकता है| कफ की समस्या दूर करने में भी धनिया लाभकारी है| रोजाना धनिया पत्ती का रस पीने से कफ दूर हो जाता है|

6. किडनी शरीर का अनमोल हिस्सों में से एक है| अगर आप अपनी किडनी को स्वस्थ रखना चाहते है, तो रोजाना धनिया खाये| एक रिसर्च के अनुसार रोजाना धनिया खाने से किडनी स्वस्थ रहती है, और किडनी से जुडी कोई बीमारी नहीं होती| किडनी रोगियों के लिए भी धनिये का सेवन लाभकारी है|

7. अगर आपको थकावट हो रही है, तो साबुत धनिया चबाकर खाये| धनिया चबाकर खाने से थकावट दूर हो जाती है| सफर में जाते समय धनिये के बीजो को लेकर जाये| जिससे रास्ते में थकावट होने पर इनका इस्तेमाल किया जा सके|

8. अगर आपको ब्लैकहेड्स और मुंहासों की समस्या है, तो हल्दी पाउडर में धनिया पत्ती का रस मिलाकर चेहरे पर लगाए| कुछ देर लगा रहने के बाद इसे साफ पानी से धो ले| कुछ दिनों तक लगातार ऐसा करने से ब्लैकहेड्स और मुंहासे ठीक हो जायेगा|

9. शरीर में आयरन की कमी के कारण एनिमिया की समस्या होने लगती है| एनिमिया एक बीमारी है, यह बीमारी शरीर में खून की कमी के कारण होती है| धनिया में आयरन की मात्रा अधिक होती है| एनिमिया के रोगी को अगर धनिया खिलाया जाये, तो यह रोग धीरे धीरे ठीक होने लगता है|

10. गर्मियों में आपने कभी कभी किसी की नाक से खून निकलते देखा होगा| नाक से खून निकलना एक बीमारी है, जिसे नकसीर बहना कहते है| यह समस्या गर्मी के कारण होती है, इसीलिए इसका असर गर्मियों में देखने को मिलता है| नकसीर बंद करने के लिए 20 ग्राम धनिया पत्ती के रस में चुटकी भर कपूर मिला ले| अब दिन में तीन से चार बार इस रस की दो दो बून्द नाक के दोनों सुर में डाले| इससे नकसीर बहनी बंद हो जायेगी|

11. आँखों के लिए धनिया विशेष रूप से लाभकारी है| विटामिन ए की प्रचुर मात्रा होने के कारण धनिया खाने से आँखों की रौशनी बढ़ती है| विटामिन ए के अलावा धनिये में कैरोटीन, फास्फोरस, आयरन कैल्शियम और विटामिन सी जैसे खनिज तत्व पाए जाते है| ये खनिज तत्व स्वस्थ शरीर के लिए लाभदायक है|

ये भी पढ़े – एलोवेरा के नुकसान
ये भी पढ़े – शुगर का इलाज

12. अगर आपको या आपके परिवार में किसी को भी मिर्गी के दौरे पड़ते है, तो धनिये का ये घरेलू उपाय जरूर अपनाये| 50 ग्राम धनिया लेकर एक लीटर पानी में डालकर एक तिहाई होने तक पकाये| अब इस पानी को ठंडा करके छलनी से छान ले| अब इस पानी के चार हिस्से करके दिन में चार बार पियें| इस पानी को पिने से मिर्गी के दौरे आने बंद हो जाते है|

इस पोस्ट में आपने Coriander in Hindi अर्थात धनिये के बारे में जाना| धनिये का इस्तेमाल हर कोई अपने घर में करता है, लेकिन इससे मिलने वाले अनगिनत फायदों से अनजान होने के कारण हम इससे होने वाले लाभ नहीं उठा पाते| इस पोस्ट में हमने आपको धनिये के अन्य फायदों के बारे में बताया| धनिये से जुडी ये पोस्ट आपको कैसी लगी, हमें कमेंट करे बताये|

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + 8 =

error: Content is protected !!