HomeHealth Tips in Hindi

मासिक धर्म लाने के घरेलू उपाय व अनियमित माहवारी

मासिक धर्म क्या है, और अनियमित माहवारी लाने के उपाय हिंदी में जाने| मासिक धर्म को माहवारी और पीरियड के नाम से भी जाना जाता है| मासिक धर्म एक स्वाभाविक प्रक्रिया है, जो हर औरत में होती है| मासिक धर्म होने पर औरतो के प्राइवेट पार्ट से खून बहने लगता है| मासिक धर्म की शुरुआत के साथ लड़कियों के जीवन में एक नया परिवर्तन आता है| जाने – बंद माहवारी कैसे चालू करें

Masik Dharm in Hindi

मासिक धर्म होने की कोई फिक्स उम्र नहीं है| 12 से 17 साल की उम्र मे लड़कियों को कभी भी माहवारी शुरू हो जाती है| माहवारी की शुरुआत लड़की के शरीर पर निर्भर करती है| जो लड़किया हेल्थी होती है, उन्हें मासिक धर्म जल्दी हो जाता है और जो लड़किया कमजोर होती है, उन्हें मासिक धर्म देर से होता है| मासिक धर्म के बारे में गलत जानकारी होने या जानकारी ना होने के कारण लड़कियां मासिक धर्म के दौरान तनाव में रहती है|

कभी कभी हमारी कुछ गलतियों के कारण मासिक धर्म में अनियमिता होने लगती है| मासिक धर्म में अनियमिता के कारण लड़कियों में अन्य बीमारियां जन्म लेने लगती है| अधिकतर मासिक धर्म की अनियमिता किसी बीमारी या गलत खान पान के चलते होती है| मासिक धर्म की अनियमिता का अगर समय पर इलाज ना किया जाये, तो औरत का माँ बनने का सबसे खूबसूरत सपना अधूरा रह जाता है|

ये भी पढ़े – पीरियड जल्दी लाने के उपाय
ये भी पढ़े – गर्म पानी के नुकसान

माहवारी न होने के कारण

माहवारी न होने या फिर माहवारी अनियमित समय पर होने की समस्या अधिकतर आलसी लड़कियों में होती है| एक शोध के अनुसार जो लड़कियां आलसी होती है, और पूरा दिन कोई काम नहीं करती, अधिकतर उन लड़कियों को माहवारी की अनियमिता या मासिक धर्म ना होने की समस्या का सामना करना पड़ता है| आलसी लड़कियों को मासिक धर्म के दौरान दूसरी लड़कियों से अधिक दर्द होता है| मासिक धर्म समय पर ना होने के कारण लड़कियों के शरीर में अनेक प्रकार के खतरनाक रोग जन्म ले लेते है| मासिक धर्म की अनियमिता आपको माँ बनने के सुख से भी वंचित कर सकती है

मासिक धर्म के दौरान ठंडी चीजों के सेवन से और शरीर में खून की कमी के कारण भी मासिक धर्म नहीं होना| अधिक देर तक पानी में भीगने के कारण या ठन्डे मौसम में रहने से मासिक धर्म अनियमि हो जाता है| अगर आप चाहती है, कि आपको माहवारी समय पर हो, तो रोजाना थोड़ा बहुत काम करते रहे| अपने खाने पीने का विशेष रूप से ध्यान रखे| हेल्थी फ़ूड को प्राथमिकता दे|

मासिक धर्म रुकने की पहचान

1. गर्भाशय में दर्द (Uterine pain)
2. सांस लेने में दिक्कत (Breathing Problem)
3. भूख में कमी (Loss of appetite)
4. जी मिचलाना (Nausea)
5. स्तनों में दर्द (Breast Pain)
6. कब्ज (Constipation)
7. घबराहट (Nervousness)
8. उल्टी होना (Vomit)

घरेलू नुस्खों से माहवारी लाने के उपाय

पपीता (Papaya) – अगर आपका मासिक धर्म रुक गया है, य मासिक धर्म सही समय पर नहीं होता, तो कुछ दिन लगातार कच्चा पपीता खाये| पपीता खाने से मासिक धर्म समय पर होने लगेगा| पपीते की सब्जी बनाकर भी खा सकते है|

तिल (Sesame) – अपने मासिक धर्म की डेट हमेशा याद रखे| अगर आपको समय पर मासिक धर्म नहीं होता, तो मासिक धर्म होने से 5 दिन पहले आधा लीटर पानी में 10 ग्राम काले तिल डालकर जब तक पकाये, जब तक पानी आधा गिलास के बराबर ना हो जाये| अब इस पानी में गुड़ मिलाकर सुबह के समय पियें| इस नुस्खे के इस्तेमाल से मासिक धर्म समय पर होगा| ध्यान रहे मासिक धर्म शुरू होने पर इस नुस्खे का सेवन बंद कर ले| गुड़ पुराना इस्तेमाल करे|

एलोवेरा (Aloe vera) – एलोवेरा का नाम आपने सुना ही होगा| एलोवेरा में अनेक गुण होते है, जो शरीर के लिए लाभदायक होते है| मार्किट में एलोवेरा के साबुन से लेकर जूस तक मौजूद है| अगर आपको अनियमित माहवारी की समस्या है, तो एक महीने तक रोजाना सुबह खाली पेट दो चम्मच एलोवेरा जूस पियें| ऐसा करने से पीरियड समय पर और खुलकर आयेगा|

गाजर (Carrot) – अनियमित माहवारी या माहवारी रुकने का कारण शरीर में खून की कमी होना भी होता है| गाजर शरीर में खून बढ़ाता है, इसीलिए इसका भरपूर सेवन करे| गाजर का जूस या कच्ची गाजर खाना अधिक लाभदायक है| गाजर का हलवा या मुरब्बा बनाकर भी खा सकती है|

मटर (Pea) – अगर आपको मासिक धर्म समय पर नहीं होता, तो मटर का अधिक सेवन करे| मटर के अधिक सेवन से मासिक धर्म समय पर ना होने वाली समस्या दूर हो जाती है|

काली मिर्च (Black pepper) – अगर आपका मासिक धर्म रुक गया है, तो शहद में तीन ग्राम पीसी काली मिर्च मिलाकर चाटे| इस घरेलू नुस्खे के सेवन से मासिक धर्म ठीक समय पर आने लगेगा|

मालकांगनी (Malkangni) – अगर आपका मासिक धर्म बहुत दिनों से सूखा हुआ है, तो गर्म दूध के साथ तीन ग्राम मालकांगनी के बीजो का सेवन करे| इससे लम्बे समय से बंद पड़ा मासिक धर्म भी शुरू हो जायेगा|

पीपल (Sacred fig) – दो छोटे पीपल में दस ग्राम तिल, थोड़ी शक्कर और दो ग्राम काली मिर्च मिला ले| अब इस में मिलाकर उबाले| इस जब तक उबाले जब तक यह काढ़ा जैसा बन जाये| अब इस काढ़े को ठंडा करके पियें| इस काढ़े के सेवन से मासिक धर्म से जुडी सभी प्रॉब्लम ठीक हो जाती है|

ये भी पढ़े – कमर दर्द का इलाज
ये भी पढ़े – घुटने का दर्द का इलाज

इस पोस्ट में आपने रुके मासिक धर्म को कैसे चालू करे इसके बारे में जाना| मासिक धर्म की समस्या अधिकतर लड़कियों में पायी जाती है, लेकिन वे शर्म के कारण इसके बारे में किसी से बात नहीं करती| मासिक धर्म की अनियमिता सामान्य है, लेकिन लम्बे समय तक मासिक धर्म ना होने से, ये गंभीर रोगो का कारण बन सकती है| इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे, ताकि लड़कियों को माहवारी लाने के घरेलू उपाय पता चले|

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − seven =

error: Content is protected !!