HomeHealth Tips in Hindi

Asthma Symptoms and Home Remedies Treatments in Hindi अस्थमा दमा का इलाज

अस्थमा के लक्षण और घरेलू उपचार

जब सांस लेने वाली नली में इन्फेक्शन या किसी दूसरे कारण से सांस लेने में तकलीफ होने लगती है, तब इसे एक बीमारी का नाम दिया जाता है, जिसे अस्थमा कहते है। अस्थमा एक एलर्जिक रोग है, अगर समय पर इस रोग का इलाज ना किया जाये, तो यह रोग बहुत गंभीर रूप ले लेता है। अस्थमा के मरीज को अस्थमा के बारे में पूरी जानकरी होनी चाहिए, जिससे वह पूरी सावधानी के साथ अस्थमा को बढ़ने से रोक सके। हम आज अपने इस लेख में आपको Asthma Se Bachne Ke Upay के बारे में पूरी जानकारी देंगे। चलिए जाने Asthma Ka Upchar कैसे करे।

Asthma Treatment in Hindi

 

अस्थमा होने के कारण (Causes of asthma)

1. खाने की गलत आदत (Incorrect eating habits)
2. गुस्सा करने से (Anger)
3. नशा करना (Getting drunk)
4. हार्मोन्स में बदलाव (Changes in hormones)
5. मिलावटी चीजें खाने से (Things adulterated food)
6. अधिक तनाव (More Stress)
7. लंबे समय तक खांसी होना (Prolonged cough)
8. तला भुना भोजन अधिक करने से (More fried than grilled food)
9. खून में इन्फेक्शन (Blood infection)
10. मोटापा (obesity)
11. अधिक दवा खाने से (Eating more medicine)

अस्थमा के लक्षण (Symptoms of asthma)

1. सांस लेने में तकलीफ (Breathing Problem)
2. सूखी खांसी होना (Dry cough)
3. सांस लेने पर चेहरा लाल होना (Breathing face reddening)
4. छाती में जकड़न होना (Be chest tightness)
5. सांस लेने पर थकान के साथ पसीना आना (Breathing, sweating with fatigue)

अस्थमा के मरीज क्या खाये – Asthma patient diet plan

1. जल्दी पचने वाला हल्का भोजन करें (Quickly digested or light meal)
2. मोटे आटे की रोटी खाये (Eat coarse flour bread)
3. हमेशा गुनगुना पानी पिए (Always drink lukewarm water)
4. खजूर खाये (Palm eat)
5 . कॉफी पिएं (Coffee Drink)
6 . मुनक्का खाएं (Eat raisins)
7 . गाजर खाएं (Eat carrots)

Asthma Ka Ilaj – Asthma treatment home remedies in hindi

1. दमा और खाँसी दोनों को दूर करने के लिए 10 खजूर को 10 बड़ी इलायची के साथ मिलाकर पीस ले, अब इस पीसे मिश्रण में शहद मिलाकर चाटे।

2. दो चम्मच शहद में एक चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर खाने से दमा के अटैक (Asthma Attack) को काफी हद तक रोका जा सकता है।

3. अस्थमा के रोगी को अदरक के रस में शहद और मेथी का काढ़ा मिलाकर खाने को दे। इसे खाने से अस्थमा को ठीक करने में काफी मदद मिलती है।

4. तुलसी के पत्तो को पानी में पीसकर उसमे शहद मिलाकर खाये। रोजाना इस उपयोग से दमा की समस्या धीरे धीरे कम हो जाती है।

5. पीपल के पत्ते छाव में सुखाकर किसी बर्तन में रखकर जला ले। जलने के बाद जो राख बचेगी उसे किसी कपडे से बांधकर छान ले। अब इस राख में थोड़ा सा शहद मिलाकर चाटे। दो से तीन महीने तक लगातार इस उपाय को दिन में दो से तीन बार करने से दमा की समस्या (Asthma problem) काफी हद तक कम हो जाती है।

6. लहसुन का सेवन करके अस्थमा की परेशानी को काफी हद तक किया जा सकता है। लहसुन की 4 से 5 कलियों को दूध में उबालकर ठंडा करके रोजाना पिए। अदरक से बनी चाय में लहसुन की एक से दो कली पीसकर डालने से भी अस्थमा (Asthma) में आराम मिलता है।

7. Asthma Ka Ilaj Kaise Kare – लहसुन का सेवन करके अस्थमा (Asthma) की परेशानी को काफी हद तक किया जा सकता है। लहसुन की 4 से 5 कलियों को दूध में उबालकर ठंडा करके रोजाना पिए। अदरक से बनी चाय में लहसुन की एक से दो कली पीसकर डालने से भी अस्थमा (Asthma) में आराम मिलता है। इस उपाय को करने से दमा के मरीज को काफी आराम मिलता है।

8. कॉफी पीने से भी दमा के मरीज (Asthma Patients) को काफी आराम मिलता है। दमा के मरीज (Asthma Patients) को सांस लेने में तकलीफ होती है। कॉफी पीने से सांस लेने वाली नली साफ़ हो जाती है, जिससे सांस लेने में होने वाली समस्या दूर हो जाती है।

9. Asthma Treatment at home दमा की समस्या (Asthma problem) को कम करने के लिए सरसो के तेल में कपूर डालकर गर्म करे। अब इस तेल को थोड़ा ठंडा करके छाती और कमर की अच्छी तरह मालिश करे।

10. दमा (Asthma) को कण्ट्रोल में रखने के लिए एक गिलास दूध में हल्दी मिलाकर पिए। हल्दी मिले इस दूध के सेवन से आप एलर्जी से भी बच सकते है।

अस्थमा में योगा करे – Yoga Se Kare Asthma Ka ilaj

अस्थमा सहित योगा करने से पूरा शरीर स्वस्थ रहता है, लेकिन अस्थमा के मरीज के लिए कुछ विशेष प्रकार के योगा टिप्स है, जो अस्थमा की बीमारी में ही कारगर है। योगा में आप कपालभाती (kapalbhati), भस्त्रिका प्राणायाम (Bhastrika Pranayam), प्राणायाम (Pranayam) और अनुलोम विलोम (Anulom Vilom) करे। ये योगा अगर आप किसी योग गुरु की सलाह के अनुसार करेगे तो अधिक फायदा होगा।

आयुर्वेद से अस्थमा का इलाज (Ayurvedic Asthma Treatment )

1. गर्म पानी में अजवायन डालकर उसकी भाप लेने से भी अस्थमा में आराम मिलता है।

2. अस्थमा की बीमारी (Asthma disease) को ठीक करने के लिए एक हिस्सा पालक का रस और एक हिस्सा गाजर का रस रोजाना पिए।

3. एक पका केला ले। इस केले को छिलके सहित आग पर सेकें। अब इस केला का छिलका निकालकर केले के गूदे में काली मिर्च डालकर खाये, इसे खाने से अस्थमा के मरीज को बहुत आराम मिलता है।

4. अस्थमा के मरीज (Asthma patient) को अदरक, लहसुन, जौ, बधुएं का अधिक मात्रा में सेवन करना चाहिए।

5. अस्थमा को बढ़ने से रोकने के लिए एक चम्मच शहद में दो चम्मच आवंला पाउडर मिलाकर खाये।

6. अस्थमा के मरीज (Asthma patient) को चावल,दही, आदि कफ बनाने वाली चीजे कम खानी चाहिए।

होमियोपैथी में अस्थमा का इलाज (Asthma Treatment In Homeopathy)

होमियोपैथी द्वारा दमा को बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के कण्ट्रोल किया जा सकता है। होमियोपैथी दवाइयों (Homeopathy medicines) के द्वारा एलर्जिक दमा (Allergic Asthma) के कारणों को कम किया जाता है। हम आपको कुछ दवाइयां बता रहे है, जिनके उपयोग से आप एलर्जिक दमा (Allergic Asthma) को कण्ट्रोल कर सकते है। ये दवाइयां आप किसी होमियोपैथी डॉक्टर की सलाह अनुसार ही खाये।

1. Dulcamara
2. Iodium
3. Thuja
4. Allium cepa

अस्थमा कंट्रोल कैसे करे (How to control asthma)

1. अस्थमा के मरीज (Asthma patient) को गर्म बिस्तर पर सोने की कोशिश करनी चाहिए।

2. मुँह की अपेक्षा नाक से अधिक सांस (Breath) लेने की कोशिश करे।

3. अधिक मशालेदार भोजन अस्थमा के मरीज के लिए खतरनाक हो सकता है, इसीलिए अधिक मशालेदार भोजन खाने से बचे।

4. अधिक खुशबूदार चीजे जैसे परफ्यूम आदि लगाने से बचे। इन चीजो से सांस लेने में दिक्कत होती है।

5. खाँसते (Coughing) और छीकते समय हमेशा रुमाल का इस्तेमाल करे और खुद को सभी प्रकार के infection से बचा कर रखे।

6. अस्थमा के मरीज (Asthma patient) को अपने पास हमेशा Inhaler Pump रखना चाहिए।

7. अस्थमा एक खतरनाक बीमारी है। Asthma ka attack व्यक्ति को कभी भी आ सकता है, इसीलिए इस बीमारी से बचने के लिए सभी बातो का ध्यान रखना जरुरी है।

8. अस्थमा के मरीज को शराब सिगरेट से परहेज करना चाहिए।

9. अस्थमा के मरीज को धूल मट्टी वाली जगह जाने से बचना चाहिए। धूल मट्टी से अस्थमा के मरीज को अधिक दिक्कत होती है।

आज हमने आपको Asthma Ka Ilaj (Asthma ayurvedic treatment in hindi) इस बारे में जानकारी दी। इस लेख में हमने आपको Allergic Asthma Treatment से बचने के उपायो के बारे में भी बताया। आपको Dama Ka Upchar करने के ये Health Tips कैसे लगे, आप हमें कमेंट करके जरूर बताये।

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Comments (1)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × five =

error: Content is protected !!