HomeHealth Tips in Hindi

Top Benfits of Basil Seeds or Sabja Seeds in Hindi

Uses of Sabja Seeds or Basil Seeds in Hindi

Basil Seeds in Hindi – भारत में शायद ही ऐसा घर हो जिसमे तुलसी ना हो। हिन्दू धर्म में तुलसी को पूजनीय माना जाता हैं। तुलसी के बीज को पुराने ज़माने से अनेक रोगों को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। बहुत कम लोगो को पता हैं, कि तुलसी के बीज (Basil seeds) को Sabja seeds भी कहते हैं। तुलसी के बीज (Sabja seeds) के बीज में अनेक प्रकार के गुण होते हैं। इन गुणों के आधार पर ही आयुर्वेद में Basil seeds को अनेक प्रकार की औषधि बनाने में इस्तेमाल किया जाता हैं।

Basil (Sabja) Seeds in Hindi

सबसे अजीब बात यह हैं, कि भारत के हर घर में तुलसी होने के बाद भी तुलसी के बीज (Sabja seeds) के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। तुलसी के बीज (Sabja seeds) के बारे में हम आपकी जानकारी को बढ़ाना चाहते हैं। इसीलिए आज हम Sabja Seeds in Hindi इस टॉपिक पर पोस्ट लेकर आये हैं। तुलसी हमारे लिए पूजनीय हैं, इसीलिए इसके बारे में हमें सभी जानकारी होनी चाहिए।

Basil seeds में Antioxidants, Citronella, Eugenol, Manganese, Beta carotene आदि अनेक प्रकार के फाइटो -केमिकल्स पाये जाते हैं। ये सभी फाइटो -केमिकल्स हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरुरी होते हैं। तो आइये इस पोस्ट को आगे बढाये और जाने तुलसी (सब्जा) के बीज के लाभ।

तुलसी के बीज के लाभ (Benefits of Basil seeds)

फाइबर से भरपूर सब्जा के बीज अपने अनेक गुणों के कारण जाने जाते हैं। गर्मियों में हम जो शरबत, मिल्क शैक, फलूदा खाते हैं, उसमे भी Sabja Seeds Powder का इस्तेमाल होता हैं। आइये जाने Sabja Seeds Benefits के बारे में।

1. मधुमेह में तुलसी के बीज (Basil seeds in diabetes) – मधुमेह दो टाइप की होती हैं, मधुमेह टाइप 1 और मधुमेह टाइप 2। अगर आपको Diabetes Type 2 हैं, तो Basil seeds आपके लिए बहुत लाभदायक हैं। Basil seeds के सेवन से खून में शुगर का लेवल कम हो जाता हैं। एक गिलास दूध में एक चम्मच Basil seeds और वनीला का दिन में एक बार सेवन करने से मधुमेह के मरीज को आराम मिलता हैं।

2. तुलसी के बीज गर्मी में (Basil seeds in summer) – तुलसी के बीज शरीर में ठंडक देते हैं, इसीलिए गर्मियों में इसके बीजो का बहुत इस्तेमाल होता हैं। गर्मियों में सभी पेय पदार्थो जैसे शरबत, जूस, निम्बू पानी में तुलसी के बीज का इस्तेमाल किया जाता हैं।

3. तुलसी के बीज वजन घटाए (Basil seeds lose weight) – मोटापे से परेशान लोग तुलसी के बीज का इस्तेमाल वजन घटाने के लिए कर सकते है। फाइबर से युक्त इस बीज को अगर पानी में भिगो दिया जाये, तो इसका आकर फूलकर दुगना हो जाता हैं। इसीलिए जब हम तुलसी के बीज खाते हैं, तो यह हमारे शरीर के पानी को जल्दी सोख लेता हैं, और फिर फूलकर पुरे शरीर में फ़ैल जाता हैं। तुलसी के बीज खाने से लंबे समय तक आपका पेट भरा रहता हैं, जिससे आप खाना कम खाते हैं। इससे धीरे धीरे आपके शरीर पर जमी फालतू चर्बी कम हो जाती हैं।

4. बालों के लिए सब्जा सीड्स (Sabja Seeds for Hair) – बालो को अगर पूरा पोषण मिले, तो बाल लंबे समय तक मजबूत बने रहते हैं। बालो को पोषण देने के लिए आयरन, प्रोटीन और विटामिन की उपयुक्त मात्रा की जरूरत होती हैं। सब्जा सीड्स (Sabja Seeds) में ये सभी पोषक तत्व पाए जाते हैं, इसीलिए जो लोग रोजाना Sabja Seeds का इस्तेमाल करते हैं, उनके बाल लंबे, घने और मजबूत होते हैं।

5. सब्जा बीज कब्ज दूर करे (Sabja Seeds for Constipation) – पेट में अनेक प्रकार की गन्दगी जमा होने के कारण कब्ज की समस्या शुरू हो जाती हैं। कब्ज में पेट साफ नहीं रहता, वाशरूम में तेज दर्द होता हैं। Sabja Seeds पेट की सारी गन्दगी को बाहर निकाल देते हैं। सब्जा बीज के इस्तेमाल से पेट साफ़ हो जायेगा, जिससे कब्ज की प्रॉब्लम भी दूर हो जायेगी।

6. त्वचा के लिए सब्जा बीज (Sabja Seeds for Skin) – Sabja Seeds में पाये जाने वाले तत्व आपको अनेक प्रकार के त्वचा रोगों से बचाकर रखते हैं। एक चम्मच सब्जा के बीज को 100 मिलीलीटर नारियल के तेल के साथ मिलाकर 5 से 10 मिनट के लिए गर्म करे। जब ये तेल ठंडा हो जाये तब इस तेल को छानकर अपनी त्वचा पर लगाये। एक्जिमा और Psoriasis जैसी बीमारियों में भी इसका इस्तेमाल लाभदायक हैं।

7. एसिडिटी में तुलसी के बीज (Basil seeds in acidity) – एसिडिटी एक सामान्य प्रॉब्लम हैं, जो महीने में एक बार हर किसी को हो जाती है। गर्मियों में पेट में गर्मी बढ़ने के कारण एसिडिटी की समस्या बढ़ने लगती हैं। तुलसी के बीज पेट की गर्मी को दूर करके एसिडिटी से निजात दिलाते हैं। एक चम्मच Basil seeds powder को एक कप दूध में घोलकर पीने से एसिडिटी के रोगी को बहुत आराम मिलता हैं। अगर आपके पेट में जलन हैं, तो दूध के साथ इसका पाउडर पीने से पेट की जलन भी ठीक हो जायेगी।

8. मासिक धर्म में अनियमितता (Irregularity in menstrual period) – आजकल समय पर मासिक धर्म ना होना यह सामान्य हो गया हैं। कुछ महिलाये मासिक धर्म की अनियमितता पर ध्यान नहीं देती, लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए। मासिक धर्म में अनियमितता तभी होती हैं, जब आप किसी बीमारी से ग्रसित हो। अगर आपको पीरियड समय पर नहीं होते, तो पीरियड्स शुरू होने के दिन से पीरियड्स ख़त्म होने के दिन तक रोजाना सुबह शाम पानी के साथ तुलसी के बीज का सेवन करे। इससे कुछ ही महीनो में पीरियड्स समय पर होने लगेंगे।

9. तुलसी बीज व्यंजन (Basil seed dishes) – तुलसी के बीज एक ओर अनेक रोगों के इलाज में दवाई का काम करते हैं, और दूसरी ओर इसके बीज अनेक प्रकार के व्यंजन बनाने में भी इस्तेमाल किये जाते हैं। खीर, शरबत, फलूदा आदि में इसके बीज डाले जाते हैं।

Chia Seeds in Hindi के बाद आज हमने आपको Basil (Sabja) Seeds in Hindi इस विषय पर जानकारी दी। आपको हमारी यह जानकारी जरूर पसंद आयी होगी। अगर आपको हमारी इस पोस्ट को पढ़कर लाभ हुआ हो तो हमें पोस्ट के निचे बने कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताये।

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 3 =

error: Content is protected !!