HomeHealth Tips in Hindi

जानिए गांठ के लक्षण और घरेलू उपचार

शरीर में गांठ के लक्षण और पहचान

“गांठ के लक्षण” आज हम आपको इस बारे में बताने जा रहे हैं| क्योंकि शरीर के किसी भी हिस्से में अचानक निकल आने वाली ये गांठ आपकी जान की दुश्मन हो सकती हैं| शरीर में कभी कभी बिना किसी कारण छोटी छोटी गांठे निकल आती हैं| इन गांठो को रसौली भी कहते हैं| ये गांठ देखने में छोटी लगती हैं, ये गांठे कैंसर और टीबी जैसे खतरनाक रोगो का कारण बन सकती हैं| इसीलिए इन गांठो को कभी हल्के में ना ले|

गांठ के लक्षण

कैंसर जैसे खतरनाक रोग की शुरुआत गांठ से ही होती हैं| अगर आपके शरीर में कोई गांठ हैं, जिससे खून निकल रहा हैं, तो यह कैंसर का लक्षण माना जाता हैं| वैसे ये जरुरी नहीं, कि सारी गांठे कैंसर की होती हैं| कभी कभी छोटी छोटी बीमारियों के कारण भी शरीर के हिस्सों में गांठ निकल आती हैं| हम गांठ को देखकर सही तरीके से पता नहीं लगा सकते, कि ये गांठ हमारे शरीर के लिए कितनी घातक हैं| इसीलिए शरीर में कोई भी गांठ होने पर इसको हल्के में ना ले, और तुरंत इसका उपचार करे|

जब ये गांठ छोटी होती हैं तो इनमे किसी प्रकार का दर्द नहीं होता, जिसके कारण अधिकतर लोग इन गांठो को नजरअंदाज कर देते हैं| गांठ कैंसर की हो या नहीं इनका इलाज कराना बहुत जरुरी हैं| शुरू में इन गांठो का इलाज ना होने के कारण ये गांठे धीरे धीरे बढ़ती जाती हैं, और बड़ी होकर बड़ी बीमारियों का कारण बन जाती हैं| जब ये गांठे बढ़ी हो जाती हैं, तब इनका इलाज भी जटिल हो जाता हैं|

आज हम अपनी पोस्ट में आपको इन गांठो का इलाज करने के कुछ घरेलू नुस्खे बतायेगे| जिनके इस्तेमाल से आप बिना साइड इफ़ेक्ट के इन गांठो को घर पर ठीक कर पायेगे| तो चलिए जाने शरीर के किसी भी हिस्से में होने वाली गांठ को ठीक करने के घरेलू उपाय|

गांठ का इलाज (Lump Treatment in Hindi)

1. कचनार की छाल को सुखाकर इसका पाउडर बनाये| अब कचनार की छाल के थोड़े से पाउडर को एक गिलास पानी में 3 से 4 मिनट उबाले| अच्छी तरह उबलने के बाद इसमें थोड़ी मात्रा में पीसी गोरखमुंडी डाले| अब इस पानी को उबाले और छानकर ठंडा करने दिन में दो बार पियें| एक महीने तक इसी प्रकार इस देशी नुस्खे का इस्तेमाल करने से शरीर के किसी भी हिस्से की गांठ ठीक हो जायेगी|

2. घरेलू नुस्खों की बात करे तो, आंकड़े का दूध भी गांठ को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं| मिटटी में आंकड़े का दूध मिलाकर गांठ पर लगाने से कुछ ही दिनों में गांठ ठीक हो जाती हैं|

3. गेहूं का आटा हमारे शरीर को एनर्जी देता हैं, और गेहूं का आटा गांठ ठीक करने के लिए सहायक हैं| गेहूं के आटे में पापड़खार और पानी मिलाकर इसका सेवन करने से भी गांठ ठीक हो जाती हैं|

गांठ होने पर ध्यान रखे –

1. स्तनों की सही तरिके से मालिश करे| मालिश से धीरे धीरे गांठ कम हो जायेगी|

2. स्तन में होने वाली गांठ कैंसर का कारण होती हैं| स्तन में गांठ होने पर नमक कम खाये| इसे गांठ को बढ़ने से रोका जा सकता हैं|

3. हल्दी के सेवन से गांठ को बढ़ने से रोका जा सकता हैं| इसीलिए हल्दी का सेवन करे| इसके लिए आप हल्दी वाला दूध पी सकते हैं|

4. शरीर में आयोडीन की कमी के कारण भी अक्सर गांठ निकल आती हैं| शरीर में आयोडीन की कमी को पूरा करना जरुरी हैं, इसीलिए केवल आयोडीन युक्त नमक ही खाये|

5. कैफीन का सेवन करने से शरीर में गांठ बनती हैं| इसीलिए कैफीन युक्त किसी भी पदार्थ का सेवन ना करे|

दोस्तों आज हमने आपको गांठ के लक्षण और गांठ का घरेलू इलाज कैसे करे इस बारे में बताया| आपको हमारी पोस्ट से प्राप्त जानकारी कैसी लगी, हमें जरूर बताये| हमारे सारे आर्टिक्ल से आपको कुछ ना कुछ सिखने को मिलता हैं| हमारे आज के आर्टिकल से आपने क्या सीखा और किस प्रकार आपने इसका लाभ उठाया हमें कमेंट करके जरूर बताये| कमेंट करने के लिए पोस्ट के निचे बने कमेंट बॉक्स में जाये|

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Comments (1)

  • Bahut achha laga Aur v koi jankari ho to aap batao ganth ke upar Mai paresan hun ki Mai Kiya karu mujhe Ganth ho gaya hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + eight =

error: Content is protected !!