HomeHealth Tips in Hindi

Gas Acidity Problem Solution in Hindi गैस एसिडिटी का ईलाज

Home Remedies for Acidity in Hindi – Gas Acidity ka Ilaj

Gas ya Acidity ki Problems se Preshan hai, to ye tips follow kare. In tips ko follow karne se Gas ya Acidity ki Problem me aaram milega. आजकल की जीवन शैली (lifestyle) और खान पान (Food and Drink) की गलत आदतो (Wrong Habits) के कारण इंसान (Human) के शरीर (Body) में कई बीमारिया (Diseases) जन्म (Birth) लेती है। गैस (Gas) की समस्या (Problem) भी ऐसी ही एक बीमारी (Disease) है। आजकल हर तीसरा व्यक्ति (person) गैस (Gas) की बीमारी (Disease) परेशान (worried) है।

गैस (Gas) की समस्या (Problem) को एसिडिटी (acidity) भी कहा जाता है। गैस या एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) होने पर पेट (stomach) में जलन (Irritation) के साथ बहुत तेज दर्द (Sharp pain) भी होता है। गैस (Gas) या एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) अधिकतर गलत भोजन (Wrong food) के कारण (Reason) होती है। आज हम आपको गैस या एसिडिटी (acidity) के लक्षण (Symptoms) , कारण (Reason) और इसके निवारण (Prevention) के बारे में बतायेगे।

Gas(Acidity) Treatment In Hindi

एसिडिटी की समस्या का कारण – Due to the problem of acidity

1. एसिडिटी (acidity) होने का सबसे बड़ा कारण (Reason) खाने पीने (Food) में की जाने वाली लापरवाही (Negligence) है। आजकल लोगो के पास काम इतना अधिक है, कि वो अपने खाने पीने (Food) के समय (Time) को भी सुनिश्चित नहीं कर पाते, और कभी कभी तो भूखे पेट (stomach) ही काम करने में लगे रहते है। इसी कारण (Reason) हम एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) के शिकार हो जाते है।

2. जरूर से अधिक भोजन (Food) करने से भी अपच (Indigestion) के कारण (Reason) एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) हो जाती है।

3. अधिक मसालेदार (Spicy) और तला भुना (Fried roast) भोजन (Food) करने से भी एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) होती है।

4. पानी (Water) कम पीने से भी एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) होती है।

5. भोजन (Food) चबाकर (Chew) ना करने के कारण (Reason) भी एसिडिटी (acidity) होने का खतरा (Danger) रहता है।

6. अल्कोहल (Alcohol) का अधिक सेवन भी एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) को पैदा करता है।

7. बासी भोजन (stale food) करने से भी हमें एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) से जूझना पड़ता है।

8. चाय (Tea) और कॉफी (Coffee) अधिक मात्रा में पीने (Drinking) से भी पेट (stomach) में एसिडिटी (acidity) होने लगती है।

9. धूम्रपान (Smoking) करने से भी पेट (stomach) में एसिडिटी (acidity) होती है।

10. मोटे लोगो (Fat People) को एसिडिटी (acidity) होने की सम्भावना अधिक होती है।

11. रात को अधिक देर से भोजन (Food) करने से हम भोजन को सही तरीके से पचा नहीं पाते, जिसके कारण एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) होने लगती है।

12. एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) फूल गौभी (Cauliflower), सफ़ेद चने (White gram), राजमा (Beans) और उड़द (Urad) जैसी देर से पचने वाली दाले खाने से भी होती है।

13. भोजन (Food) करने के तुरंत बाद लेटने से भी पेट में एसिडिटी (acidity) होने लगती है।

एसिडिटी के लक्षण – Symptoms of Hyperacidity

1. अचानक घबराहट होना (Sudden palpitations)
2. साँस लेने में दिक्कत (Breathing problems)
3. पेट में दर्द या जलन (Abdominal pain or irritation)
4. पेट का फूलना (Flatulence)
5. मुँह में खट्टा पानी आना (Sour mouth watering)
6. गले में जलन (Throat irritation)
7. उल्टी आना (Vomiting)
8. भूख ना लगना (No loss of appetite)
9. खट्टी डकार आना (Sour belching)
10. छाती में जलन (Heartburn)

एसिडिटी से बचने के उपाय – Tips to avoid acidity

1. मसालेदार (Spicy) और तला भुना (Fried roast) बाहर का भोजन (food) खाने से बचे।

2. सुबह खाली पेट 2 गिलास गुनगुना पानी पीने से पेट साफ़ हो जाता हैं, और एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) कम हो जाती है।

3. कॉफी और चाय (Coffee and tea) का सेवन (Consumption) कम मात्रा में करना चाहिए।

4. रोजाना ताजा नारियल का पानी (Coconut water) पीने से एसिडिटी (acidity) और कब्ज (Constipation) जैसी समस्याए (Problems) दूर हो जाती है।

5. घर पर बना साफ़ खाना (food) खाये।

6. एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) होने पर भोजन (food) जितनी भूख (Hunger) हो उससे कम ही खाये।

7. एसिडिटी (acidity) होने पर रात को सोते समय एक गिलास गुनगुना दूध (Milk) पीकर सोये।

8. भोजन (food) अच्छे से चबा चबाकर करे। इससे पाचन (Digestion) अच्छा होता है, जिससे एसिडिटी (acidity) होने का खतरा (Danger) भी कम हो जाता है।

9. अधिक पानी वाले फलो (Fruit) जैसे तरबूज (watermelon), खीरा (Cucumber), ककड़ी का अधिक मात्रा में सेवन करे।

10. रात को सोने से पहले कम से कम 2 या 3 घंटे पहले भोजन (Food) करे। इससे भोजन (Food) को पचने का समय मिल जाता है, और एसिडिटी (acidity) में आराम मिलता है।

11. लंबे समय तक भूखे (Hungry) रहने से भी एसिडिटी (acidity) की Problem होने लगती है। इसलिए भूखे रहने से बचे।

12. एक कप पानी में आधा चम्मच बैकिंग सोडा (Baking soda) और 2 चम्मच निम्बू का रस (Lemon juice) मिलाकर पीने से गैस या एसिडिटी (acidity) से जल्दी ही छुटकारा मिल जायेगा।

13. एसिडिटी (acidity) के कारण (Reason) पेट (stomach) में होने वाली जलन (Irritation) से बचने के लिए अदरक (Ginger) और निम्बू के रस (Lemon juice) में शहद (Honey) मिलाकर रोजाना सेवन करे।

14. एसिडिटी (acidity) की समस्या से छुटकारा पाने के लिए दालचीनी (Cinnamon) का इस्तेमाल करना सबसे उत्तम है। दालचीनी (Cinnamon) को पानी में डालकर उबाले। अब इस पानी को ठंडा करके छलनी से छानकर पी ले। एसिडिटी (acidity) दूर करने के लिए ये सबसे बढ़िया उपाय है।

15. खाना खाने से आधा घंटा पहले आलू (potato) का रस निकाल कर पीने से भी एसिडिटी (acidity) की प्रॉब्लम से निजात मिलता है।

16. पानी (Water) शरीर (Body) की गन्दगी को बाहर निकालता है, इसीलिए अधिक से अधिक मात्रा में पानी (Water) का इस्तेमाल करे।

17. इलायची (Cardamom) खाने से भी एसिडिटी (acidity) के कारण (Reason) होने वाली जलन (Irritation) में आराम मिलता है।

18. सुबह खाली पेट एक गिलास गर्म पानी में निम्बू का रस (Lemon juice) मिलाकर पीने से एसिडिटी (acidity) की Problem दूर हो जाती है।

19. एसिडिटी (acidity) को दूर करने के लिए सेब के सिरके (Apple vinegar) में पानी मिलाकर पिए।

20. एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) से छुटकारा पाने के लिए रोजाना दूध (Milk) में हल्दी की पत्तिया (Turmeric leaves) पीसकर मिलाये और पिए।

21. धनिया (coriander) के पत्ते चबाने से भी एसिडिटी (acidity) में आराम मिलता है। धनिया (coriander) को सब्जी में डालकर भी खाये।

22. लहसुन (Garlic) को पीसकर उसमे जीरा (cumin), काली मिर्च (Black pepper) के बीज, धनिया (coriander) और एक कप पानी डालकर उबाले। उबालने के बाद इसे छलनी से छानकर पिए। दिन में दो बार ऐसा करने से एसिडिटी (acidity) में आराम मिलता है।

23. पुदीने (Mint) की ताजी पत्तियो (Leaves) को पानी में उबाल कर (Boil) पीने से भी गैस या एसिडिटी (acidity) की प्रॉब्लम ठीक हो जाती है।

24. गैस या एसिडिटी (acidity) की समस्या (Problem) को दूर करने के लिए एक गिलास छाज में एक चम्मच काला नमक (Black Salt) और एक चम्मच अजवाइन (celery) मिलाकर पिए।

25. हींग (Asafoetida) को गर्म पानी में डालकर पिए। हींग (Asafoetida) पेट (stomach) से जुडी अनेक बीमारियों (Diseases) में इस्तेमाल किया जाता है।

26. सौंफ के बीज (Fennel seeds) का पाउडर पीने वाले पानी में डालकर पिए। सौंफ (Fennel ) एसिडिटी (acidity) को ख़त्म कर देता है।

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Comments (1)

  • Write the quantity to mix and the quantity How Many times to take your Tips or very good for example 1 lammon Juice 5gm jinjrler Juice and 1 spoon Honey morning and Evening thanks

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − fifteen =

error: Content is protected !!