HomeHealth Tips in Hindi

Thyroid ka Upchar in Hindi थायरायड का घरेलु इलाज

Treatment For Thyroid (थायरायड) In Hindi

Thyroid Ka ilaj : थायराइड गले में पायी जाने वाली एक ग्रंथि है। गले में पायी जाने वाली इस थायराइड ग्रंथि से Thyroxine Hormone निकलता है। जब इस ग्रंथि से निकलने वाले Thyroxine Hormone का बैलेंस बिगड़ जाता है, जब शरीर में अनेक प्रकार की बीमारियां होने लगती है। जब ग्रंथि से निकलने वाले Thyroxine Hormone की मात्रा कम हो जाती है, तब शरीर में Metabolism तेज होने लगते है, जिससे हमारी बॉडी की एनर्जी जल्दी ख़त्म हो जाती है। इसके विपरीत Thyroxine Hormone के बढ़ने के कारण, Metabolism कम हो जाते है, जिसके कारण शरीर सुस्त और थका हुआ हो जाता है।

Thyroid Treatment in Hindiथायराइड ग्रंथि के बढ़ जाने पर इसके अलावा भी कई समस्याएं हो जाती है। थायराइड ग्रंथि के कारण शरीर के अनेक हिस्से प्रभावित होते है। थायराइड किसी भी उम्र के लोगो में हो सकता है। बच्चो में थायराइड की समस्या होने पर उनकी लंबाई कम हो जाती है, और शरीर फैलने लगता है। आज हम आपको Thyroid Ka Upchar कैसे करे इस बारे में बतायेगे। थायराइड मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है – 1. हाइपोथायरायडिज्म (Hypothyroidism) 2. हाइपरथायरॉइडिज्म (Hyperthyroidism).

1. हाइपोथायरायडिज्म (Hypothyroidism) – Hypothyroidism Thyroid में व्यक्ति के अंदर Thyroxine Hormone की कमी होने लगती है।
2. हाइपरथायरॉइडिज्म (Hyperthyroidism) – Hyperthyroidism में शरीर में Thyroxine Hormone तेजी से बढ़ने लगती है।

थायराइड ग्रंथि क्या है (What is the thyroid gland)

थायराइड ग्रंथि (Thyroid Gland) Body के महत्वपूर्ण हिस्सी में से एक है। थायराइड ग्रंथि (Thyroid Gland) Body के दूसरे हिस्सो को सही से काम करने का काम करती है। इसके लिए थायराइड ग्रंथि (Thyroid Gland) थायराइड आयोडीन बनाती है, जब यह थायराइड ग्रंथि (Thyroid Gland) जरूरत से अधिक या कम थायराइड आयोडीन बनाने लगती है, तब Thyroid में खराबी आ जाती है, और हमें थायराइड का इलाज (Thyroid Treatment) कराना पड़ता है।

थायराइड के कारण (Causes of Thyroid)

1. अगर आप जरूरत से अधिक सोचते है, और तनाव में रहते है, तब भी आपको थायराइड की Problem होने लगेगी।

2. शरीर में आयोडीन की मात्रा कम या अधिक होने पर भी थायराइड की समस्या (Thyroid problem) हो जाती है।

3. सोया प्रोडक्ट्स का जरूर से अधिक सेवन करने से भी कभी कभी थायराइड की समस्या (Thyroid problem) शुरू हो जाती है।

4. जो महिलाये माँ बनने वाली होती है, उनको भी थायराइड की समस्या (Thyroid problem) होने लगती है। इसका कारण है, Pregnancy के दौरान तनाव और Body में अनेक प्रकार के हार्मोन्स में बदलाब।

5. गन्दगी और प्रदुषण के कारण भी थायराइड की बीमारी हो जाती है। गन्दगी और प्रदुषण के कारण हवा के माध्यम से विषैले जीवाणु हमारी थायराइड ग्रंथि को नुकसान भी पहुँचाते है।

6. दवाइयों के अधिक इस्तेमाल और दवाइयों के साइड इफ़ेक्ट से भी आपको थायराइड की समस्या (Thyroid problem) का सामना करना पड़ सकता है।

7. थायराइड की बीमारी वंशानुगत (Hereditary) भी होते है। इसका मतलब है, कि अगर आपके परिवार में किसी को ये बीमारी है, तब भी आपको ये बीमारी होने के चांस है।

थायराइड के लक्षण (Thyroid Symptoms)

थायराइड दो प्रकार के होते है, हम आपको दोनों प्रकार के थायराइड के लक्षणों के बारे में बतायेगे, क्योंकी किसी भी बीमारी के लक्षण जानने के बाद उसका इलाज आसान हो जाता है।

हाइपरथायराइडिज्म के लक्षण (Symptoms of hyperthyroidism)

1. वजन घटना (Weight Loss)
2. हार्ट बीट बढ़ना (Increased heart rate)
3. शरीर काँपना (Body pulsate)
4. अधिक पसीना आना (Perspire more)

हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण (Symptoms of Hypothyroidism)

1. वजन बढ़ना (Weight gain)
2. गर्दन में दर्द (Pain in the neck)
3. कब्ज की समस्या (Constipation problem)
4. जोड़ों में दर्द (Joint pain)
5. आवाज भारी होना (Deepening of the voice)
6. भूख कम लगना (Loss of appetite)
7. आँखों में सूजन (Eye inflammation)
8. सर्दी लगना (Catch cold)

घरेलू विधियो द्वारा थायराइड का इलाज (Thyroid treatment by home remedies)

1. लौकी (Gourd) थायराइड की बीमारी (Thyroid disease) से छुटकारा पाने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट लौकी (Gourd) का जूस पिए। इसके बाद एक गिलास ताजे पानी में तुलसी की एक दो बून्द और कुछ मात्रा में एलोवेरा जूस डालकर पिए। अब आप आधे से एक घण्टे तक कुछ ना खाये पिए। रोजाना ऐसा करने से थायराइड की बीमारी (Thyroid disease) जल्दी ठीक हो जायेगी।

2. विटामिन ए (Vitamin A) – थायराइड के मरीज को अपने भोजन में विटामिन ए (Vitamin A) की मात्रा बढा देनी चाहिए। विटामिन ए (Vitamin A) थायराइड को धीरे धीरे कम करता है। गाजर और हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन ए (Vitamin A) अधिक मात्रा में पाया जाता है।

3. रस (Juice) – जूस पीना शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। थायराइड के मरीज को रोजाना एक गिलास ताजा मौसमी फलो का जूस पीना चाहिए।

4. काली मिर्च (Black pepper) – थायराइड को ठीक करना चाहते है, तो तुरंत काली मिर्च का सेवन शुरू करे। काली मिर्च का सेवन करने से थायराइड की बीमारी (Thyroid disease) ठीक हो जाती है। काली मिर्च का सेवन आप किसी भी प्रकार से कर सकते है।

5. हरा धनिया (Green coriander) – हरे धनिये के इस्तेमाल से थायराइड को ठीक किया जा सकता है। ताजे हरे धनिये को बारीक़ पीसकर इसकी चटनी बना ले। अब इस चटनी को रोजाना एक गिलास पानी में घोलकर पिए। रोजाना पानी के साथ हरे धनिये की चटनी का सेवन करने से थायराइड धीरे धीरे कण्ट्रोल होने लगता है।

6. अंडा (Egg) – अंडा खाना भी थायराइड के मरीज के लिए फायदेमंद है। अंडा खाने से थायराइड कण्ट्रोल में रहता है।

7. आयोडीन (Iodine) – थायराइड के मरीज को आयोडीन (Iodine) का अधिक मात्रा में सेवन करना चाहिए। आयोडीन (Iodine) प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका है, प्याज, लहसुन, टमाटर जैसी आयोडीन (Iodine) युक्त चीजो का सेवन करे।

8. पानी (Water) – शरीर में कोई बीमारी हो या ना हो पानी का सेवन करना बहुत जरुरी है। पानी पीने से शरीर में मौजूद सभी विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते है।

9. अश्वगंधा (Ashwagandha) – थायराइड के मरीज को रोजाना रात को सोने से पहले गाय के दूध में एक चम्मच अश्वगंधा (Ashwagandha) चूर्ण मिलाकर पीना चाहिए।

10. व्यायाम (Exercise) – रोजाना आधे से एक घण्टे का व्यायाम जरूर करे। व्यायाम करने से शरीर स्वस्थ रहता है, थायराइड भी कण्ट्रोल में रहता है।

11. नारियल पानी (Coconut water) – नारियल पानी भी थायराइड को कण्ट्रोल करने में सहायक है। रोजाना ना हो सके तो कम से कम एक दिन छोड़कर एक नारियल पानी जरूर पिए।

योगा से थायराइड का इलाज (Thyroid treatment by yoga)

योगा करने से भी थायराइड की समस्या से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है। योगा का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता। योगा शरीर को हमेशा किसी ना किसी रूप में फायदा ही पहुँचाता हैं। सुबह रोजाना आधे से एक घंटे योगा करे। हम आपको बाबा रामदेव के कुछ योगा बतायेगे। इन योगा से आपको Thyroid ka ilaj करने में आसानी होगी।

1. हलासन (Halasana)

2. मत्स्यासन (Matsyasana)

3. विपरीत करनी (Viparita Karani)

थायराइड में परहेज करे

1. सफ़ेद नमक ना खाये। हमेशा सेंधा या काला नमक ही खाये।

2. नशीले पदार्थो का सेवन ना करे।

3. वनस्पति घी का सेवन करने से बचे।

4. रेड मीट का सेवन कभी ना करे।

आज हमने आपको Thyroid ke Ilaj ke Gharelu Upay बताये। आपको Thyroid Treatment Kaise kare इस बारे में जानकारी प्राप्त करके कैसा लगा आप हमें कमेंट करके जरूर बताये। हमने आपको thyroid ko rokne ke upay बताये, अगर आपके पास Thyroid Treatment के उपाय हो, तो वो भी आप हमारे साथ शेयर कर सकते है।

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Comments (4)

  • Bahut accha treatment gai sir aur bahut assan.sir mera TSH SERUM 7.24Hai mujhe jkitne dino tak medicine lena hoga sir ya pure life khana hoga pls batayie sir

    Reply
    • Munazir ji.. dawai ke bare me doctor hi aapko acchi information de sakte hain because wo patient ki condition dekh kar dwai dete hain so aap acche doctor se consult kariye

      Reply
  • Bahut accha treatment hai sir aur bahut assan.sir mera TSH SERUM 7.24Hai mujhe kitne dino tak medicine lena hoga sir ya pure life khana hoga pls batayie sir.

    Reply
  • Aapke dwara bahut achhi jankari di gayi hai. Aap bahut achha likhte hain.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × four =

error: Content is protected !!