HomeHealth Tips in Hindi

खूब पियें पानी Water Drinking Benefits in Hindi

Drinking Water Benefits in Hindi

शरीर से जुडी अनेक बीमारियो  से छुटकारा पाने के लिए हम दवाईया  खाते है। लेकिन यह बात जानकर आप हैरान रह जायेगे कि आप अपने शरीर  से जुडी अनेक बीमारियो  का इलाज  केवल पानी  पीकर कर सकते है। पानी  शरीर के लिया सुरक्षा कवज का काम करता है। जो लोग अधिक पानी पीते है, वो बीमार  कम पड़ते है। पानी  केवल प्यास लगने पर ही ना पीये, बिना प्यास के भी पानी पीने की आदत डाले।

पानी के फायदे - Benefits of water

पानी  पीने से हमारे शरीर के अंदर मौजूद सभी जहरीले तत्व पेशाब  के रास्ते बाहर निकल जाते है, जिससे हमारा शरीर अंदर से साफ़ हो जाता है, और बीमारियो होने का खतरा कम हो जाता है। खाली पेट पानी पीना और अधिक अच्छा होता है। आज हम आपको पानी  पीने के फायदों के बारे में बतायेगे।

पानी के फायदे – Benefits of water

 

1. गर्मी के मौसम (Summer season) में घर से बाहर जाते समय 2 से 3 गिलास पानी (Water) पीकर जाये, इससे आपको लू (hot wind) नहीं लगेगी।

2. जिन लोगो को भूख कम लगती है, उन्हें अधिक पानी (water) पीना चाहिए। पानी (water) पेट साफ़ करके भूख बढ़ाता है।

3. खाना खाने के बीच में पानी (water) ना पीये। खाना खाने के कम से कम 30 मिनट बाद 1 से 2 गिलास पाने पीये। इससे खाना अच्छे से पच (Digested) जाता है।

4. रोजाना सुबह 2 से 3 गिलास गुनगुना पानी (Warm water) पीने से पेट जल्दी साफ होता है, और कब्ज (Constipation) से छुटकारा मिलता है।

5. गैस ( gas) की समस्या (Problem) और सीने की जलन (Burning chest) को दूर करने के लिए सुबह खाली पेट रात को तांबे के बर्तन (Copper pot) में रखा पानी (water) पीये।

6. हमेशा तांबे के बर्तन (Copper pot) में रखा पानी (water) पीने से लीवर से जुडी कोई भी बीमारी (disease) कभी नहीं होती।

7. कम पानी (water) पीने से सर में दर्द (Headaches) भी होने लगता है। सर दर्द (Headaches) से छुटकारा पाने के लिए अधिक मात्रा में पानी पीये।

8. पानी (water) शरीर (body) में रोग प्रतिरोधक (Immunity) छमता (Flexibility) को बढ़ाता है।

9. शरीर (body) में गर्मी होने के कारण जबान में छाले होना, पेशाब में जलन होना ऐसी ही कई बीमारिया (Diseases) हो सकती है, इन सब बीमारियो (Diseases) को दूर करने के लिए हमें रोजाना कम से कम 10 से 12 गिलास पानी (Water) पीना चाहिए। पानी (Water) पीने से शरीर
(body) को अंदर से ठंडक मिलती है।

11. अधिक पानी पीने से शरीर (body) में Red Blood Cells जल्दी जल्दी बढ़ती है।

12. सुबह खाली पेट पानी पीने से मानसिक रोग (Mental disease) दूर ठीक हो जाते है, और तनाव (Strain)भी कम होता है।

13. कम पानी (water) पीने से बाल कमजोर होकर टूटने लगते है। बालो को मजबूत बनाये रखने के लिए अधिक मात्रा में पानी (water) पीना चाहिए।

14. अधिक पानी (water) पीने से माइग्रेन के मरीज को आराम मिलता है।

15. रोजाना ब्रश करने के बाद खाली पेट गुनगुने पानी (Warm water) में नीबू का रस और एक चम्मच शहद पीने से मोटापा कम हो जाता है।

16. पानी (Water) की कमी से चेहरे (Faces) पर कील मुँहासे (Wedge Acne) निकल जाते है। कील मुँहासो (Wedge Acne) से छुटकारा पानी (Water) के लिए अधिक से अधिक पानी पीये। अगर हो सके तो तांबे के बर्तन में रखा पानी (Water) पीये। पानी (Water) पीने से चेहरे (Faces) में चमक भी आ जाती है।

17. अगर आपकी कमर में चर्बी जमी है और आप कमर को पतला बनाना चाहते है, तो एक गिलास पानी में 5 चम्मच जामुन का सिरका मिलाकर सुबह खाली पेट पियें| रोजाना यह नुस्खा अपनाने से कमर की चर्बी कम हो जायेगी|

18. अगर आप अपनी आँखों की रौशनी बढ़ाना चाहते है, तो एक बाल्टी में साफ़ पानी भरे और उस पानी में अपना चेहरा डुबोकर बार बार आंखे खोले और बंद करे| इससे आँखों की अंदर से सफाई होती है और आँखों की रौशनी भी बढ़ती है|

19. झुकाम के रोगाणुओं को ख़त्म करने और झुकाम को ठीक करने के लिए गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करे|

अच्छे स्वास्थ्य के लिए घरेलू नुस्खे –

बालों को घना और लंबा कैसे करें
Likoria ka Gharelu Ilaj
Cancer Symptoms in Hindi
Osteoarthritis in Hindi
गठिया Gathiya Rog Ilaj
पेट साफ करने का तरीका
लिवर खराबी Liver Problem Ke Lakshan
Eye Flu Treatment in Hindi
लंबे बाल Baal Bade Karne ka Tarika
मुँह के कैंसर के लक्षण और इलाज
ब्लड कैंसर Blood Cancer
स्‍तन कैंसर Breast Cancer Information in Hindi
Kidney Stone Treatment in Hindi
सिरदर्द का इलाज
Hepatitis B in Hindi
गर्भावस्‍था प्रेग्नेंट होने के ख़ास लक्षण
महिला स्‍वास्थ्‍य Women’s Health Information Hindi
फेफड़ों का कैंसर के लक्षण
Eczema Treatment in Hindi
Jaldi Pet Kam Karne Ke Liye Yoga

Disclaimer: All information are good but we are not a medical organization so use them with your own responsibility.

Comments (2)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four + twenty =

error: Content is protected !!